हैदराबाद मामले में फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी सुनवाई

एजेंसी
हैदराबाद। तेलंगाना के मुख्यमंत्री केसीआर ने महिला पशु चिकित्सक से बलात्कार और हत्या मामले की शीघ्र सुनवाई के लिए त्वरित अदालत का गठन किए जाने के आदेश दिए। बता दें कि महिला पशु चिकित्सक के साथ आरोपियों द्वारा हैवानियत की हद पार करने का खुलासा हुआ है।
पुलिस की रिमांड रिपोर्ट के मुताबिक, चारों आरोपियों ने पीड़िता के साथ दुष्कर्म के लिए साजिश रची। साथ ही पीड़िता के शोर मचाने पर आरोपियों ने चुप कराने के लिए उसके मुंह में जबरदस्ती शराब डाल दी। 20 से 26 वर्ष के चारों आरोपियों ने रिमांड रिपोर्ट में बताया कि बुधवार 6.15 बजे जब पीड़िता ने स्कूटी पार्क की तो सभी आरोपी उसे देख रहे थे। इसके बाद पीड़िता टैक्सी से त्वचा विशेषज्ञ से मिलने गई। इस दौरान चारों आरोपियों मोहम्मद आरिफ, जोलू शिवा, जोलू नवीन और चिंताकुंता केशावुलु जो पेशे से ड्राइवर और खलासी हैं ने स्कूटी के एक टायर से हवा निकाल दी। इसके बाद चारों ने पीड़िता पर हमला करने से पहले शराब पी। जब पीड़िता 9:15 बजे वापस लौटी तो चारों मदद के बहाने उसके पास पहुंचे। उन्होंने पुलिस को बताया कि उन्होंने पीड़िता को फोन पर बात करते हुए देखा।

ऐसे बेटे को चाहे जिंदा जलाओ या फांसी दो : मां

हैदराबाद। हैदाराबाद मामले में एक आरोपी की मां ने अपने कलेजे पर पत्थर रखते हुए कहा है कि मेरे बेटे को उसी तरह जिंदा ही जला दिया जाए जिस तरह उसने युवा महिला चिकित्सक को जलाया था। मानवता को शर्मसार करने वाले इस जघन्य सामूहिक दुष्कर्म एवं हत्याकांड का एक आरोपी सी. चेन्नाकेशवुलु तेलंगाना के नारायणपेट जिले के गुडीगांडला गांव का निवासी है। जब मीडिया के लोग उसके घर पर पहुंचे और उसकी मां ने कहा कि जैसा उन लोगों ने किया है वैसा ही उसके साथ होना चाहिए।